The Latest | India | [email protected]

7 subscriber(s)


16/05/2022 Harsh Manaswi Inspiration Views 101 Comments 0 Analytics Hindi DMCA Add Favorite
कविता!! ........ऐ राही अपनी राह बना !
ऐ राही  अपनी राह बना !
क्यों सोया इतनी मस्ती में !!
सब ढूंढ रहे मंजिल अपनी !
तू खोया है किस बस्ती में !!

यह दुनिया है जंजालों की !
अब अपना ज़रा कमाल दिखा!!
ये गगन तुम्हारी मंज़िल है !
अब साहस भरा उड़ान दिखा!! 

क्यों डरता है तु गिरने से !
तू गिर गिर कर इतिहास बना !! 
सब तेरे ही गुण गाएंगे !
कभी क्षमता भरा प्रयास लगा !! 

ना शोर मचा बस ज़ोर लगा ! 
तू उच्च शिखर तक जाएगा !! 
पर जिस दिन साहस भंग हुआ !
तू भीतर से मर जाएगा !! 
                             
 Sms on you mobile for India only else use your mail id to get the otp...!    Please tick to get otp in your mail id...!
 




© mutebreak.com | All Rights Reserved