The Latest | India | [email protected]

56 subscriber(s)


K
26/01/2024 Kajal sah Knowledge Views 385 Comments 0 Analytics Video Hindi DMCA Add Favorite Copy Link
आसान मार्ग

सीखना निरंतर चलने वाली प्रक्रिया है । जीवन में जितना हम सीखते है, शीघ्र ही सफलता तक पहुंचने के लिए सक्षम बन पाते है। आज वर्तमान में english को सभी ने इतना प्राथमिकता दे दिया है कि अपनी मातृ भाषा को भूलते जा रहें है। हर भाषा का अपना महत्व है। लेकिन अन्य भाषा को अत्यधिक प्राथमिकता देकर अपनी मातृ भाषा को महत्व ना देना यह गलत है। हर देश की मातृ भाषा माँ के स्वरूप है, जिस प्रकार हम माँ को नहीं भूलते। उसी प्रकार हमें अपनी मातृ भाषा को नहीं भूलना चाहिए। अन्य भाषा को हमें जरूर सीखना चाहिए, जिससे हम अन्य लोगों से संचार कर पाए। इंग्लिश एक भाषा है, जिससे हम मेहनत, प्रयास और अभ्यास के साथ सीख सकते है। अपनी मातृ भाषा को महत्व दीजिये और साथ ही साथ इंग्लिश भाषा को सीखें। आज वर्तमान समय बढ़ते ग्लोबलइजेशन के कारण से, जॉब के अवसर इत्यादि के लिए इंग्लिश का महत्व तेज़ी से बढ़ रहा है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज मैं आपको कुछ ऐसे टिप्स बताऊंगी, जिससे आप शीघ्र ही इंग्लिश या अन्य भाषा सीख सकते है। 1. चूस: सबसे पहले आपको इंग्लिश सीखने के लिए एक अच्छा सोर्स खोजना होगा।मेरे अनुसार यूट्यूब एक ऐसा प्लेटफार्म है, जहां सबसे पहले आप कुछ टीचर्स के पढ़ायी का ओबवेर्सेशन करके टीचर का चयन कर सकते है। जिससे आपका टाइम और ऊर्जा का बचत होगा। आप अपना अत्यधिक टाइम और ऊर्जा अपने लर्निंग में दे पायेंगे। 2. अभ्यास : अभ्यास वह प्रक्रिया है, जिससे आप किसी भी क्षेत्र में महारथ हासिल कर सकते है। चाहे वो शिक्षा, खेलकूद, डांस इत्यादि।टॉपर का यही सबसे बड़ा सीक्रेट है,कि वे रोज पढ़े हुए पार्ट का अभ्यास करते है। अगर आपको किसी भी भाषा को सीखना है, तब आपको उस भाषा को रोजाना अभ्यास करना होगा। टीचर के पढ़ाये हुए टॉपिक को रोजाना अभ्यास करे। अभ्यास करने से आपको विषय अच्छे से याद रहता है और आप धीरे - धीरे आगे बढ़ते है। शब्दकोष :मैं आपको खुद का अनुभव बताती हूँ, जब भी मैं इंग्लिश बोलना स्टार्ट करती हूँ। तब मैं सबसे ज्यादा प्रॉब्लम वोकैबुलरी का सामना करती हूँ। जिस प्रकार किसी भाषा की मजबूत नींव अच्छे शब्दकोष होते है। आपको रोजाना 10 वर्ड्स का टारगेट करके रोजाना याद करना है। आपके पास जितना वर्ड पॉवर होगा, आप अच्छे से वाक्य स्ट्ररक्चर कर पायेंगे। इसलिए आपका रोजाना का लक्ष्य होना चाहिए कि वर्ड्स मीनिंग को सीखकर विभिन्न सिचुएशन में उन वर्ड्स का उपयोग करे। जिससे आपका कम्युनिकेशन स्किल और इंग्लिश बोलने में आत्मविश्वास बढ़ेगा। तकनीकी : विज्ञान का बहुत सुंदर और उपयोगी उपहार आपके पास है वो हैं आपका स्मार्टफोन। जिसने इसका उपयोगी स्मार्टली से किया.. वो स्मार्ट है। आप घर बैठे विभिन्न एप्प्स के माध्यम इंग्लिश का अभ्यास कर सकते है। आप इंग्लिश का अभ्यास अन्य लोगों के साथ जुड़कर कर सकते है। निरंतर करने से आपके इंग्लिश भाषा में एक अच्छा फ्लो आयेगा। इसलिए अच्छे से स्मार्ट फोन का उपयोग करे। जैसे - talk now, talk new apps इत्यादि। सूत्र : अप्रैल 2023 में मैं सचिन सर जो इंग्लिश के अच्छे टीचर है। मैंने उनके क्लास को ज्वाइन किया। तब उन्होंने मुझे इंग्लिश सीखने का चार प्रमुख सूत्र बताया।1. रीडिंग 2. राइटिंग 3. लिस्टेनिंग 4. स्पीकिंग। उनका एक महत्वपूर्ण टिप्स Lets तकनीक है। जिसमे उन्होंने बताया L- learn, E- English, T - through, S - stroy. जिसने आपको रोज इंग्लिश स्टोरी रीडिंग के बाद स्पीकिंग और न्यू वर्ड्स के मीनिंग को जानकर लिखने का प्रयास करे। यह आपको रोजाना सुबह में करना होगा। जिससे आपके इंग्लिश में सुधार होगा। 1 घंटे :अगर आप वास्तव में अपने करियर के लिए इंग्लिश भाषा सीखना चाहते है, तब आपको रोज 1 घंटे इंग्लिश शार्ट मूवी, न्यूज़पेपर रीडिंग, इंलिश स्पीच सुनने का अभ्यस करना होगा। यह एक बहुत अच्छा माध्यम है, जिससे आपका वर्ड्सपावर, रीडिंग, स्पीकिंग स्टाइल सभी में तेज़ी होगी। एक्सटेम्पर : स्पीकिंग का प्रमुख पात्रों में से एक एक्सटेम्पर है। एक्सटेम्पर एक ऐसा माध्यम है,जिससे आप स्वयं के स्पीकिंग, वर्ड पॉवर को जान पाते है। अगर आपको स्पीकिंग के क्षेत्र में बेहतरीन बनना है, तब आपको रोजाना एक्सटेम्पर का अभ्यास करना होगा। सबसे पहले इजी टॉपिक से स्टार्ट करे। मिरर, कैमरा या अपने परिवारजन के समक्ष 2-3 मिनट बोलने का अभ्यास करे। ग्रामर : इंग्लिश का जड़ उसका ग्रामर। आपको केवल रटने के लिए ग्रामर नहीं सीखना है, आपको अपने करियर के लिए, सीखने के लिए सीखना है। हर छोटे से बड़े, कम महत्वपूर्ण से अधिक महत्वपूर्ण सभी ग्रामर के भाग को आपको ध्यानपूर्वक सीखकर अपने इंग्लिश के यात्रा में उपयोग करना है । ट्रेवल : यात्रा वह माध्यम है, जिससे हम विभिन्न संस्कृत, सभ्यता को जान पाते है। आप ऐसे स्थान पर जाए जहां अत्यधिक लोगों का भाषा इंग्लिश हो। इसे आपको इंग्लिश का वातावरण मिल पायेगा और आप इंग्लिश का अभ्यास कर पायेंगे। सेलिब्रेट : operant conditioning theory के अनुसार जब हम कोई कार्य करते है तब हमें स्टीमलुस प्राप्त होता है। जैसे अभी हम पढ़ रहें है और पढ़ने के बाद हमें नौकरी मिलेंगी यानि स्टीमलुस मिलेगा। आपको स्वयं को प्रोत्साहन करना है और स्वयं के हर छोटे से बड़े अचीवनमेंट को सेलिब्रेट करे। इससे आपको सकारात्मक ऊर्जा मिलता है। आपका आत्मविश्वास, आत्मज्ञान बढ़ता है। यह कुछ टिप्स है, जिससे अप इंग्लिश भाषा में स्वयं को अच्छा बना सकते है। लेकिन इसकी प्राप्ति के लिए आपको रोजाना मेहनत, अभ्यास करना होगा। उपरोक्त टिप्स के अलावा मूवी,इंग्लिश चैलेंज, इंग्लिश स्पीकिंग कम्युनिटीज के साथ जुड़ना इत्यादि। स्वयं पर विश्वास रखे आप सीख सकते है। धन्यवाद काजल साह

Related articles

 WhatsApp no. else use your mail id to get the otp...!    Please tick to get otp in your mail id...!
 





© mutebreak.com | All Rights Reserved