The Latest | India | [email protected]

55 subscriber(s)


K
08/09/2023 Kajal sah Achievement Views 292 Comments 0 Analytics Video Hindi DMCA Add Favorite Copy Link
नकारात्मक का अंत सकारात्मक से?
ना जाने मेरे अंदर कुछ अलग ही परिवर्तन 1-2 से हो रहा है। मुझे अब एक मिनट ही बर्बाद करना अच्छा नहीं लगता, व्यर्थ की बातें अब अच्छी नहीं लगती, व्यर्थ की बातें करने वाले लोगों के साथ अब रहना अच्छा नहीं लगता। अब मेरा सबसे पहले और फर्स्ट प्रायोरिटी मुझे स्वयं के सारे अवगुणों का अंत करना है। यह जीवन बहुत अनमोल है, जीवन में खाना, पीना, शादी करना, बच्चों की परिवरिस तक ही सिमित नहीं है एवं इसे हम जिंदगी नहीं कह सकते है। जिंदगी तो खुलकर जीने का नाम है, अपने अरमानो को पूर्ण करने की चाहत,खुद अच्छा इंसान बनाकर स्वयं के लिए एवं दूसरे के लिए प्रेरणा बनना ही जिंदगी है। हम सभी ऊंचाइयों तक पहुंचना चाहते है, लेकिन हम अपने बुरे आदतों के कारण है, हम ऊंचाइयों तक नहीं पहुँच पाते है।
यह अवगुण है :
1. आलस्य
2. चुगली करना
3. बुरे दोस्तों के साथ रहना
3. बुरी चीज़ों को देखना
4. अपने हेल्थ पर ध्यान नहीं देना
इत्यादि।
अगर आपको उन्नति तक पहुंचना है, तब आप आवश्यक रूप से अपने जीवन से बुरी आदतों का दमन करना होगा।
चलिए आज मैं आपको कुछ टिप्स बताऊंगी, जिसके मदद से आप बुरी आदतों का अंत कर सकते है। लेकिन इन टिप्स को आपको प्रतिदिन अभ्यास करना होगा।
बुरी आदतों को अंत करने निम्नलिखित टिप्स :

1. दोस्तों :कबीर दस जी ने भी कहा है -नेक संगत है, हम भी धीरे - धीरे नेक बनने लगते है। लेकिन वही बुरी संगति हो, तब हम भी बुरे बनने लगते है। परिणामस्वरूप हमारे अंदर विभिन्न प्रकार के अवगुण आ जाते है। अग़र आपको आगे बढ़ना है तो आज से ही अपने जीवन नकारात्मक लोगों को हटाए एवं जिनका सोच, कार्य, विचार सकारात्मक है उनके साथ ही मित्रता करें।

नया शौक : बुरी आदतों का अंत करने का सबसे अच्छा तरीका यह कि आप नकारात्मक का अंत सकारात्मक से करें यानि आप स्वयं में नये - नये शौक यानि हॉबीस को सीखे एवं उसे अभ्यास करें। यह टिप्स बहुत कारगर होगी अगर आप सिद्द्त के साथ किसी नये हॉबीस को सीखते है।

लीन : मुझे किसी व्यक्ति से, अपनों से किसी से भी अत्यधिक प्रेम नहीं है। बस प्रेम है ईश्वर से। ईश्वर की शक्ति में आप लीन होते है, तब आपके अंदर निहित बुरे गुणों का अंत होने लगता है। जब मित्र चुने सोच, समझकर ही चुने। आप मन्त्र, जाप ईश्वर की महिमा में कर सकते है। निरंतता करने से आपके अंदर बुरी गुणों का अंत होने लगता है।

कठिनाइयों : किनके जीवन में कठनाई नहीं आती, सभी के जीवन में मुसीबतें आती है। लेकिन यह मुसीबतों हमें नया सीख, नया अवसर देती है। इसलिए जब जीवन में मुसीबत आता है, तब यह हमारे अंदर निहित बुरी आदतों का मिटाने का प्रयास एवं हमें मानसिक रूप से मजबूत बनाती है।

प्रतिदिन : आप प्रतिदिन अपना रूटीन तैयार करें, जहां आप दिन से लेकर रात का सारे कार्यों का नियोजन करें। इस  रूटीन में नकारात्मक कार्य बिल्कुल ना लिखें। स्वयं व्यस्त    रखें। आप जितना स्वयं को अच्छे कार्यों में व्यस्त रखेंगे आप बहुत जल्द ही अपनी बुरी आदतों से दूर हो पाइयेगा।

नुकसान : आपको पता है जब मैं रास्ते मैं गरीब बच्चों को देखती हूं, जो पढ़ नहीं आते। तब मैं सोचती हूं कि उन्होंने अपने प्रेजेंट पर मेहनत नहीं कि इसलिए आज वे ऐसे। आप सोच कर देखिये अगर आपके अंदर भी बुरी आदत निहित हो, लेकिन आपको बुरी आदत अच्छा लग रहा है, अभी। लेकिन बाद मैं यही बुरी आदत आपके लिए बहुत कष्टदायक होगा। इसलिए अपनी बुरी आदतों से नुकसान के बारे में सोचे। एवं अपनी बुरी आदतों को ना दोहराये अपने जीवन में। नुकसान किसी का नहीं होगा, नुकसान होगा केवल आपका होगा।

आत्मविश्वास : दुसरो पर जब हम अत्यधिक विश्वास करते है, तब हमें दुख मिलता है लेकिन जब वही विश्वास स्वयं पर हो तब हमें जीत मिलती है। इसलिए आपको स्वयं पर दृढ़ विश्वास करना है। आप अपने दृढ़ विश्वास, संकल्प से ही आप अपने बुरी आदतों का दमन कर पाएंगे।आप अपनी मेहनत से, बुद्धि से, संकल्प से आप अपनी कमियों का अंत कर पाएंगे।

नशा : आपको क्या लगता है? क्या नशा हमारे दुख को, दर्द को, हमारी बुरी आदतों का अंत करता है। सच तो यह नशा स्वयं ही बुरी आदतों से परिपूर्ण है। इसलिए अगर आप नशा करते है तब इसी आदतों को आज से ही दमन करें। निरंतता प्रयास करें, अपने लक्ष्य तक पहुंचने का। नशा, आलस, बुरे मित्र, यह सब आपके सबसे बड़े शत्रु है लेकिन उससे भी बड़ा शत्रु आपके ब्रेन में निहित नेगेटिव सोच है, जो आपको कभी भी आगे बढ़ने नहीं देंगी। लेकिन आप इस सोच का दमन कर सकते है। Dont think you are week. You are strong.

धन्यवाद
काजल साह
                             

No article(s) with matching content

 WhatsApp no. else use your mail id to get the otp...!    Please tick to get otp in your mail id...!
 




© mutebreak.com | All Rights Reserved