Jago Bharat | jamshedpur | [email protected] | non | non

1 subscriber(s)


7/22/2020 Brig Narayan Inspiration Views 299 Comments 0 Analytics Hindi DMCA
10 बातें, जो इंसान असफलता से सीखता है – 10 Life Lessons To Learn From Failure
हर इंसान अपने जीवन में बहुत सी गलतियां करता और असफल होता है। अगर आप निरंतर प्रयास कर रहे है तो आपके लिए असफल होना बुरी बात नहीं बल्कि अच्छी बात है क्योंकि हर सफल व्यक्ति ने यह माना है कि –

लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि हम इन गलतियों से सबक लें। प्रत्येक दिन, आपके साथ जुड़ा प्रत्येक इंसान, आपसे मिलने वाला हर नया इंसान, हर परिस्थिति, आपको कुछ न कुछ नया सबक सिखाती है। हमें जरुरत है, उनको समझने की।

आज हम यहाँ आपको ऐसे ही कुछ बातें बता रहे हैं, जिसे इंसान अपनी असफलताओं से सीख सकता है| 

असफल होने के बाद, सब कुछ समाप्त नहीं हो जाता 

असफलता जीवन का हिस्सा है|अगर आप असफल हो जाते हैं तो यह न सोचें कि सब कुछ समाप्त हो गया। बल्कि इस दौरान की गयी गलतियों से सीख लें। 

इस दुनिया में कोई भी व्यक्ति ऐसा नहीं होगा जो कि बिना किसी कठिनाइयों और असफलताओं के सफल हुआ हो| आप असफलता की सीढी पर पांव रखकर ही सफलता की ओर आगे बढ़ते है|

हालांकि आपको असफलता से बहुत तकलीफ हो सकती हैं, लेकिन असफलता के बाद सबसे बेहतरीन विकल्प आपके पास यही है कि आप असफलता को सकारात्मक रूप में स्वीकार करके गलतियों से सबक लें। भूतकाल में की गयी गलतियों से सबक लेकर, आप भविष्य को और बेहतर बना सकते हैं।

अपनी नाकामयाबी को स्वीकार करें 

जो बीत गया, वो आपका अतीत था – उससे सीखो और उससे आगे बढ़ो। आपने अपने अतीत में जो गलतियां की हो, उसे पकड़ कर रोते न रहें। यदि आप ऐसा करेंगे तो, आप आज कुछ नहीं कर पाएंगे और आपका कल भी बिगड़ जायेगा। जो हो गया उस पर अब आपका कोई नियंत्रण नहीं हैं, इसलिए उसे लेकर परेशान क्यू होना। बेहतर है कि इन नाकामयाबी को स्वीकार करें और इनसे सीख लेते हुए आगे बढे।

आपको अपने अंदर बदलाव की जरुरत है, न की संसार को बदले की 

जब भी हमारे साथ कुछ भी गलत होता है या हम असफल होते है तो हम में से ज्यादातर लोग परिस्थितियों या दूसरों व्यक्तियों को जिम्मेदार ठहराते  हैं। जबकि सच्चाई यह है कि हमारी गलतियों और असफलताओं के लिए हम स्वंय ही जिम्मेदार होते है। असफलताओं के बाद हमें अपनी शक्तियों और कमियों का पता चलता है ताकि हम अपनी कमियों को शक्तियों में बदल सकें| 

असफलता के बाद अधिक साहसी बनें 

ज्यादातर लोग असफलता से डरते है| लेकिन एक बार जब इंसान असफल हो जाता है, तो असफलता का डर समाप्त हो जाता है और इंसान अधिक साहसी बनता है| असफलता का अनुभव लें और अपनी असफलताओं की मदद से डर को मिटा दें

अपने सपने का पीछा करें

असफलता के कारण हार मानना इंसान की सबसे बड़ी बेवकूफी है| असफलता यह दर्शाती है कि इन्सान सफलता की ओर आगे बढ़ रहा है, इसलिए असफलता से सीख लें |

“कोई भी आपको तब तक नहीं हरा सकता, जब तक आप खुद से न हार जाओ”  

असफलताओं से हारने की बजाय स्वंय को चुनौती दें और अपने लक्ष्य की तरफ आगे बढ़ें।

कोई भी इंसान पूर्णतया कुशल नहीं होता

इस संसार में कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं है जो पूर्णतया कुशल हो। जैसे-जैसे हम बड़े होते हैं, दिन-प्रतिदिन कुछ न कुछ नया सीखते है। हर इंसान में कुछ-कुछ कमियां होती है और यदि आप इन बातों को लेकर परेशान रहते है कि मुझे ये नहीं आता, वो नहीं आता तो आप व्यर्थ में परेशान हैं। अगर आपको खुश रहना है तो अपनी कमियों को स्वीकार करें और उनको सुधारने की कोशिश करें।

समय सबसे मूल्यवान है

असफलताएँ यह बताती है कि हमने समय का सही उपयोग नहीं किया है| अगर हमें अपने जीवन में कुछ बेहतर करना चाहते हैं तो हमको सबसे ज्यादा अपने कीमती समय पर ध्यान देना होगा। आज दुनिया बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है, अगर आप इसके साथ नहीं चलेंगे तो निश्चित ही पीछे हो जायेंगे। सही समय पर सही काम करने से ही सफलता मिलती है।

अपना दायरा बढ़ाये

असफलताएँ यह इशारा करती है कि हमें अपने कम्फर्ट ज़ोन से बाहर निकलने की जरूरत है| हम सभी, कुछ भी नया करने से डरते हैं| लेकिन हमें यह भी ध्यान देना चाहिए जब तक हम कुछ नया करने की कोशिश नहीं करेंगे तब तक हम आगे नहीं बढ़ सकते। इसलिए अपने कम्फर्ट जोन (comfort level) से बाहर निकलें और बिना डरे प्रयास करें |

अपनी तुलना किसी से भी न करें

हर इंसान अपने आप में अलग (Unique) हैं। जो गुण आपके अंदर है, जरुरी नहीं की वह दूसरों में भी हो। हर इंसान में कुछ न कुछ, दूसरों से बेहतर होता है इसलिए दूसरों से अपनी तुलना करना व्यर्थहीन है। ऐसा करके आप पूरी तरह से समय और ऊर्जा, दोनों की बर्बादी करते हैं। हमें दूसरों की सफलता से प्रेरित होना चाहिए, न की ईर्ष्या करना चाहिए।

जीवन की यात्रा का आनंद लीजिए 

यदि हर इंसान अपने अंदर अच्छा बदलाव करता है तो यह संसार अपने आप ही बदल जायेगा। यह जीवन एक सफर की तरह है, इसलिए बिना किसी परवाह के इसका आनंद उठाते हुए और अपनी गलतियों से सीख लेते हुए आगे बढ़ें। कठिनाइयाँ, समस्याएँ और असफलताएँ जीवन की यात्रा का हिस्सा है जिसके बिना जीवन अधूरा है|